Jootam Phenk – Gulabo Sitabo

Jootam Phenk Lyrics by Piyush Mishra

Jootam phenk, jootam phenk
Jootam phenk hui zindagi
Hey jootam phenk, jootam phenk
Jootam phenk huyi zindagi

Na jaane kya man mein aayi upar wale ne
Banwayi har ek choohe ki billi ek
Re haye jootam phenk

Jeevan dhakka dhakki hai
Ekdum mukka mukki hai
Tu gehun ki bori hai
To yeh aate ki chakki hai

Tante upar tante the
Hum omelette hain ande the
Arre jo bhi aaya baja gaya woh
Hum mandir ke ghante the

Jootam phenk, jootam phenk
Jootam phenk huyi zindagi

Na jaane kya man mein aayi upar wale ne
Banwayi har ek choohe ki billi ek
Re haye jootam phenk

जूतम फेंक Hindi Lyrics

जूतम फेंक जूतम फेंक
जूतम फेंक हुई ज़िंदगी

रे जूतम फेंक जूतम फेंक
जूतम फेंक हुई ज़िंदगी

ना जाने क्या मन में आई
उपर वाले ने
बनवाई हर एक चूहे की
बिल्ली एक
अरे हाए.. जूतम फेंक

जीवन धक्का धक्की है
एकदम मुक्का मुक्की है
तू गेहूँ की बोरी है
तो ये आटे की चक्की है

जीवन धक्का धक्की है
एकदम मुक्का मुक्की है
तू गेहूँ की बोरी है
तो ये आटे की चक्की है

हर एक चूहे की बिल्ली एक
हर एक डंडे की गिल्ली एक
हर एक गोभी की इल्ली एक
हर एक ताबूत की किल्ली एक

टंटे ऊपर टंटे थे
हम ऑमलेट हैं अंडे थे
अरे जो भी आया बजा गया वो
हम मंदिर के घंटे थे

जूतम फेंक जूतम फेंक
जूतम फेंक हुई ज़िंदगी

ना जाने क्या मन में आई
उपर वेल ने
बनवाई हर एक चूहे की
बिल्ली एक
अरे हाए जूतम फेंक

Leave a Reply

Your email address will not be published.